हल्दी पाउडर के लाभ व उपयोग |

TURMERIC POWDER

त्वचा संबंधी समस्याएं

पानी के साथ हल्दी और दालचीनी का पेस्ट बनाएं और धीरे से प्रभावित क्षेत्र पर रोजाना दो बार लगाएं

खांसी

एक चम्मच गर्म दूध में आधा चम्मच हल्दी और घी मिलाकर रात को तीन दिन तक पियें

अस्थमा

हल्दी पाउडर को घी के साथ मिलाकर पेस्ट बना लें रात भर पेस्ट को एक गिलास गर्म दूध के मिश्रण में आधा चम्मच पेस्ट मिलाएं और इसे दिन में एक बार लें।

रूसी

तीन चम्मच हल्दी पाउडर के मिश्रण को जैतून के तेल में मिलाकर स्कैल्प पर लगाएं 15 मिनट तक इसे गुनगुने पानी या शैंपू से रगड़ कर साफ करें।

गले में खराश

एक कप गर्म दूध में एक चम्मच हल्दी पाउडर को 3minutee के लिए उबालकर पीएं|

एथलीट फुट

दो लीटर गुनगुने पानी में एक चम्मच हल्दी मिलाएं और इसे निकालने से पहले अपने पैरों को 15 मिनट तक भिगोएँ।

पित्त पथरी

एक सप्ताह तक रोजाना सुबह खाली पेट आधा चम्मच हल्दी गुनगुने पानी के साथ लें|

बर्न्स

एलो जेल के एक चम्मच के साथ हल्दी का एक चम्मच मिश्रण प्रभावित क्षेत्र पर मिश्रण लागू करें|

स्पाइडर पोस्टर

प्रभावित क्षेत्र पर हल्दी और तिल का पेस्ट लागू करें|

गुर्दे की पथरी

पेठाचट्टा या कलौंचे पिन्नता के पत्तों को हल्दी के टुकड़े के साथ पीसकर इसका रस निकालें, इसमें थोड़ा सा शहद मिलाएं और इसे दस दिनों तक लें।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *